एंग्लो इंडियन की नियुक्ति पर सरकार को नोटिस

एंग्लो इंडियन की नियुक्ति पर सरकार को नोटिस

हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को एंग्लो इंडियन  व्यक्ति कितने पद पर नियुक्ति को लेकर नोटिस दे दिया है कोर्ट ने यह भी पूछा कि सारी कागजी

कार्रवाई किए जाने के बाद भी  देरी क्यों हो रही है सरकार को 20 जनवरी से पहले तक का वक्त दिया गया है नोटिस में  फिर भी देरी क्यों की

जा रही है याचिका में पॉल की तरफ से आकाश चौधरी वकील ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के पहले की गई नोटिस भी पेश की गई उन्होंने यह भी

कहा कि  कि जब सरकार की तरफ से सब  प्रक्रिया हो गई है तो इसमें देरी क्यों की जा रही है सुनने में यह भी आया है कि सत्ता में आने के बाद

और मुख्यमंत्री बनने के बाद कमलनाथ ने डैजल पोल के नाम की नोटिस दी थी लेकिन यह फाइल राजभवन में पहुंचकर बाहर नहीं आई

तकरीबन तीन चार महीने हो गए हैं

Read Also :  लोकसभा चुनाव के बाद मोदी का पहला बंगला दौर ममता ने उनसे सीएए वापस लेने को

इसलिए हुई याचिका पर तुरंत सुनवाई

अभी हाल ही main लोकसभा राज्य सभा यह प्रस्ताव पास हुआ था कि एंग्लो इंडियन के विधायक के सीट पर नियुक्ती बंद

कर दी जाय लेकिन संविधान मैं किसी भी तरह का संशोधन नहीं हुआ है यह कहा जा रहा है कि 25 जनवरी को यशोधन शायद हो जाए इसी

को लेकर शायद पॉल याचिका लगाई

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *