CAA, NRC के खिलाफ चेन्नई में विरोध का अद्भुत तरीका, स्टालिन, कनिमोझी के घर के बाहर बनाई रंगोली

CAA, NRC के खिलाफ चेन्नई में विरोध का अद्भुत तरीका, स्टालिन, कनिमोझी के घर के बाहर बनाई रंगोली

CAA, NRC के खिलाफ चेन्नई में विरोध का अद्भुत तरीका, स्टालिन, कनिमोझी के

घर के बाहर बनाई रंगोली चेन्नई,  देश भर में हो रहे हैं सीएए और एनआरसी को लेकर जो विरोध किए जा रहे हैं|

वही चेन्नई में सीएए एनआरसी को लेकर कुछ अलग ही तरीके से प्रदर्शन किया जा रहा है|

  सोमवार को चेन्नई में विरोध का कुछ अद्भुत ही तरीका अपनाया गया है|

पूर्व मुख्यमंत्री डीएमके प्रमुख पार्टी सांसद कानिमोझि के घरों के बाहर कोलम 

स्वरूप रंगोली बनाकर प्रदर्शन किया| कोलम  रंगोली का एक पारंपरिक रुप है|

रंगोली की डिजाइन में से एक में लिखा था| नो सीएए दूसरी तरफ एनआरसी|

यह भी पढ़ें

बॉर्डर गा‌र्ड्स बांग्लादेश ने कहा, एनआरसी भारत सरकार का आंतरिक मामला

 

नागरिकता संशोधन कानून ( CAA )  पाकिस्तान, अफगानिस्तान, और बांग्लादेश, से

आए हुए गैर मुस्लिम साथियों को नागरिकता देने वाला कानून है| यह वही मुस्लिम है जो

पाकिस्तान से या बांग्लादेश में सताए गए मुस्लिम और हिंदू जाति के लोग हैं| नेशनल रजिस्टर

ऑफ सिटीजनशिप ( NRC ) जो अभी तक केवल चर्चित में| इसका उद्देश्य यह है|

कि जो लोग पाकिस्तान, बांग्लादेश, से अवैध तरीके से भारत में आते हैं उनका पहचान कराता है|

एनआरसी और सीएए का यही मतलब है|

CAA, NRC के खिलाफ चेन्नई में विरोध का अद्भुत तरीका, स्टालिन, कनिमोझी के घर के बाहर बनाई रंगोली

डीएमके नेताओं के घरों के बाहर यह कोलम ( रंगोली ) संबंधित 7 लोगों को हिरासत में लेने की बात सामने आई है|

हालांकि बाद में सीएए और एनआरसी के खिलाफ सार्वजनिक स्थानों पर रंगोली बनाने के लिए छोड़ दिया गया|

 

 चेन्नई में लोगों ने विभिन्न तरीकों से, माध्यमों से इसे जाहिर किया कि हम सीएए एनआरसी पर विरोध करना जारी रखेंगे|

रविवार को चेन्नई पुलिस ने गैर कानूनी तरीके और बेसेंट नगर में सार्वजनिक स्थानों पर रंगोली बनाते

हुए 7 लोगों को हिरासत में लिया|  चेन्नई में संशोधित नागरिकता अधिनियम और (NRC) के खिलाफ विरोध जारी है |

 पिछले हफ्ते डीएमके के नेतृत्व वाले विपक्षी दलों ने शहर में शांतिपूर्ण तरीके से एक विशाल रैली निकाली|

शनिवार को तमिलनाडु थाउडेड जमथ (TNTJ) ने नए कानून के खिलाफ राज्य

की राज्यपाल के निवास के लिए एक एक रैली निकाली|

 

Posted By Rahul Maddheshiya

 

  

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *